बुधवार, 21 सितंबर 2016

कैसे जाने शाकाहारी और मांसाहारी आहार के बारे में (How To Know About Veg Or Non-Veg Food)






दोस्तों Globalisation के इस युग में आये दिन कोई-न-कोई खाने-पीने की वस्तु आती ही रहती है। कभी कोई नए Flavour में chocolate  आ गयी तो कभी किसी नये Brand के Noodles आ गए। कभी कुछ पीने के लिए आ गया तो कभी खाने के लिए।  और हम भी कोई अच्छा सा packet देखा तो हो गए उसे भी खाने-पीने को।



तो ऐसे में उन लोगों के लिए एक दुविधा उठ जाती है जो पूर्णता से शाकाहारी है। क्योंकि आजकल Market में non-veg पदार्थ भी काफी आ रहे। लेकिन अधिकतर लोग फिर भी उसके ingredients पढ़े बिना ही खा लेते। क्योंकि इसमें बहुत खेचल महसूस होती है ,जितना time पढ़ने को लगेगा उससे आधे समय में ही वह चीज ख़तम हुयी होगी ,इसलिए पढ़े कौन।



लेकिन इसके लिए भी एक special symbols होते है ,जो यह दर्शाते है कि खाद्य पदार्थ शाकाहारी है या फिर मांसाहारी। कुछ लोग इस symbols के बारे में जानते होते है लेकिन फिर भी बहुत से लोगों को इन symbols (Logo) के बारे में जानकारी नहीं है।



तो दोस्तों आज शाकाहारी और मांसाहारी खाद्य पदार्थों पर बने logo के बारे में जानते है।



शाकाहारी निशान (Vegetarian Logo)





शाकाहारी खाद्य पदार्थों के लिए हरे रंग के निशान का इस्तेमाल किया जाता है। आपको बस किसी भी product पर देखना है कि Green Logo बना है या फिर नहीं ,अगर उस वस्तु पर Green Logo बना है तो इसका मतलब कि वह वस्तु शाकाहारी है। 


भारत में हर एक Company/Brand के लिए यह अनिवार्य है कि उसपर हरा निशान बना हो ,जिसकी लंबाई ,चौड़ाई के लिए भी नियम बनाये गए है। 


शाकाहारी चीजों में क्या-क्या आता है और क्या नहीं आता 


कोई भी खाद्य पदार्थ जो भी किसी पेड़,पौधे या फिर किसी वनस्पति से प्राप्त किया गया हो वह सभी शाकाहारी पदार्थ होते है। इनके इलावा दूध और दूध से बने पदार्थ भी शाकाहारी है।



मांसाहारी निशान (Non-Veg Logo)





मांसाहारी खाद्य पदर्थों की पहचान के लिए भूरे रंग (Brown Colour) का उपयोग किया जाता है। तो भी वस्तु मांसाहारी होगी उसपर भूरे रंग का निशान लगा होगा।  कई वस्तुओं पर भूरे रंग के इलावा लाल रंग (Red Colour) का भी चिन्ह लगा होता है ,कई वस्तुओं पर ऐसा उस वस्तु की packing के कारण भी हो जाता है। 



मांसाहारी चीजों में क्या-क्या आता है 



कोई भी वस्तु जिसमे जानवर के किसी भी हिस्से का प्रयोग किया गया हो ,वह सभी मांसाहारी है। किसी भी तरह का कोई जानवर ,पशु ,पक्षी ,मछली आदि किसी के भी मांस ,हड्डियों आदि से बनी वस्तुएं नॉन-वेजीटेरियन  category में आती है। 



किन वस्तुओं पर यह Logo नहीं होते

 

कुछ import की हुए वस्तुओं पर यह चिन्ह नहीं होते और बहुत-सी Medicines पर भी यह चिन्ह नहीं होते। इनकी तसल्ली के लिए आप इनके ingredients पर ही ध्यान दे और दवाई के लिए आप डॉक्टर से ही पूछ सकते है कि उसके minerals/salts का source क्या है।



अंत में एक ही बात ,"शाकाहारी खाओ ,स्वस्थ रहो ,शाकाहार ही उत्तम आहार है।" 



दोस्तों आपको यह जानकारी कैसी लगी comment करके जरूर बताये। अगर अभी भी आपका कोई सवाल है तो आप comment करके या फिर Contact Us Form भरकर पूछ सकते है। 



Google Plus Page पर भी Follow करें 



यह भी पढ़े :
Share:

2 टिप्‍पणियां:

  1. bahut hi badhiya jankari share ki hai nikhil aapne. aajkal to yah aur jyada jaruri ho gya hai ki hamen kya khana chahiye aur kya nahi.. aapne veg aur nonveg khane ke baare me achcha article likha hai.

    उत्तर देंहटाएं