ख्वाबो में ही इतना खो गया था मैं कि

Khwabo Me Hi Itna Kho Gya Tha Main Ki

ख्वाबो में ही इतना खो गया था मैं
कि अब हकीकत में रहने का
सलीका ही भूल चुका हूँ ।

ज़िन्दगी जीने की सोची थी
लेकिन ज़िन्दगी से ही
खफा हो गया हूँ।

जाना बहुत दूर तक था
लेकिन जब ख्वाब टूटे तो पता चला
अभी तक तो एक कदम भी
नही चल पाया हूँ।

अगर आप ज्ञानपूंजी की तरफ से रोजाना प्रेरणादायक विचार अपने व्हाट्सप्प पर प्राप्त करना चाहते है तो 9803282900 पर अपना नाम और शहर लिखकर व्हाट्सप्प मैसेज करे.

Spread the love

Leave a Comment