मजदूर दिवस पर विचार (Labour Day Quotes In Hindi)

दोस्तों जैसा कि आप सभी को मालूम ही होगा कि मजदूर दिवस पुरे विश्व में मनाया जाता है अगर नहीं भी मालूम था तो अब आपको पता चल गया होगा कि मजदूर दिवस पुरे विश्व में 1 मई को मनाया जाता है। इसकी शुरुआत अमेरिका से मजदूरों के रख-रखाव के लिए हुयी थी। क्यूंकि पहले समय में मजदूरों के साथ बहुत बुरा व्यवहार किया जाता था और यह दिवस मजदूरों के हित्तों और उनके योगान के कारण पुरे संसार में मनाया जाता। मजदूर दिवस को अंग्रेजी में Labour Day या worker’s डे भी कहते है।

आईये मजदूर दिवस के उपलक्ष्य पर कुछ महान व्यक्तियों के सुविचार आप सभी के साथ सांझा करते है।

Labour Day Quotes In Hindi 2020

श्रम के अंत का अर्थ है फुर्सत में बैठे रहना।

अरस्तु

बिना श्रम के, कुछ भी नही।

सोफोकल्स

कड़ी मेहनत का अन्य कोई विकल्प नही है।

थॉमस ऐ. एडिसन

स्वर्ग में विश्राम ही विश्राम है, लेकिन धरती पर परिश्रम ही आशीर्वाद है।

हेनरी वैन डाइक

ईश्वर काम की कीमत पर हमे सभी चीजे बेचते है।

लियोनार्डो द विंसी

कार्य में कार्यरत मन हमेशा प्रसन्न रहता है। यही परमानंद का राज है।

थॉमस जेफरसन

मजदूरी वह प्राथना है, जिसका उत्तर प्रकृति देती है।

रोबर्ट ग्रीन इंगरसोल

मजदूर दिवस एक शानदार अवकाश है क्योंकि आपकी सन्तान अगले दिन फिर से विद्यालय वापिस जाएगी। इसे स्वतंत्रता दिवस कहा जाना था, लेकिन यह नाम आजादी दिवस को पहले ही दिया जा चुका है।

बिल दोड्स

यदि संयुक्त राज्य अमेरिका में कार कतार में खड़ी है, तो यह श्रम दिवस का सप्ताहांत ही होगा।

डॉग लार्सन

यदि कोई आदमी कहे कि वह अमेरिका से प्रेम करता है, लेकिन मजदूरी से नफरत तो वह झूठा है। और यदि आदमी कहे कि उसे अमेरिका पर भरोसा है, लेकिन मेहनत से डरता है, तो वह बेवकूफ है।

अब्राहम लिंकन

यह असलियत में श्रम ही है, जो हर चीज में अंतर पैदा कर देता है।

श्रम पहली कीमत है जो वास्तिविक रूप में किसी चीज को खरीदने के लिए दी जाती है। यह सोना या चांदी नही, किन्तु यह श्रम, जो संसार वास्तविक सम्पत्ति को खरीद सकता है।

आदम स्मिथ

अपने आपको खोजने का सबसे बेहतर तरीका यह है कि स्वयं को दुसरो की सेवा में लगा देना।

महात्मा गांधी

ऐसा काम ढूंढ़िए, जिससे आपको प्यार हो और आपको फिर जिंदगी भर कभी भी काम नही करना पड़ेगा।

कन्फ़्यूशियस

श्रम करना अपराध नही है, लेकिन नकारा रहना अपराध है।

ग्रीक कहावत

किसी भी व्यक्ति को इसलिए भुगतान नही किया जाता कि उसके पास हाथ और पैर है, बल्कि उनका इस्तेमाल करने के लिए भुगतान किया जाता है।

एल्बर्ट हुब्बार्ड

पारितोषित लेने से पहले श्रम करना पड़ेगा। फसल उगने से पहले उसे बोना पड़ेगा। खुशी से पहले आंसू बहते है।

राल्फ रैनसम

सबसे बड़ी उपलब्धि श्रम और खेल के बीच की रेखा को ढूंढ़ला करना है।

अगर आप ज्ञानपूंजी की तरफ से रोजाना प्रेरणादायक विचार अपने व्हाट्सप्प पर प्राप्त करना चाहते है तो 9803282900 पर अपना नाम और शहर लिखकर व्हाट्सप्प मैसेज करे.

Spread the love

Leave a Comment