Life में problems जब बहुत ज्यादा बढ़ जाये, तब क्या करे…?

दोस्तों मेरे से किसी ने पूछा कि जब लाइफ में problems बहुत बढ़ जाए तो क्या करना चाहिए…. तो उनके लिए और आप सभी के लिए भी… जिनको लगता है कि उनकी लाइफ में problems बहुत ही ज्यादा बढ़ चुकी है, यह जवाब है… इस आर्टिकल को पढ़ना मत भूले।

मुश्किल परिस्थियां हर एक की life में आती है, भले ही कोई किसी भी मुकाम पर हो, हर एक को उसके हिसाब से ही मुश्किलें मिलती है।

अब मान लीजिए, कोई पहली कक्षा का student है तो उसे अपनी परेशानियां अधिक लगेंगी और अगर कोई बारवीं कक्षा का student है, तो उसे अपनी मुश्किलें अधिक लगेंगी।

यानी कि हर एक को अपनी परेशानियां अधिक ही लगती है, भले ही बारवीं कक्षा वाला सोचे कि पहली कक्षा वाले को तो कोई परेशानी ही नही।

लेकिन हर एक के लिए मुश्किलों का level स्वयं के लिए अधिक ही होता है।

ठीक ऐसा ही हमारी life में होता है, अगर कोई अमीर है, तो उसकी मुश्किलें उसके लिए अलग है और उसके स्वयं के लिए काफी अधिक भी है

और अगर कोई गरीब है, तो उसकी भी मुश्किलें उसके लिए अधिक है।

अब बात आती है, इन मुश्किलों को कम कैसे करे ?

देखिए, ज़िन्दगी है, इसमे मुश्किल तो होंगी ही होंगी… लेकिन उन्हें आपको सहन करना आना चाहिये।

जरा याद कीजिये वो वक्त… जब आप छोटे थे, रोते थे लेकिन जब कोई चुप कराने वाला न था, तब रोते रोते स्वयं चुप कर जाते थे। ठीक अब इस जिंदगी को भी उस बचपन की ही तरह बनाये, कि जो भी मुश्किल हो, बस उसे सहन करना सीखिए, आखिर क्या कर लेंगी मुश्किलें आपका? ज्यादा से ज्यादा जान ही ले लेंगी न……? लेकिन अभी ली नही और आप जिंदा है, इसका यही मतलब है कि आप में वह क्षमता है कि आप मुश्किलों को सामना कर सके और कीजिये उन मुश्किलों को सामना।

मिट्टी का बर्तन हो, लोहे की रॉड हो या भले ही सोने का जेवर हो, जब तक तपते नही, तब तक बनते नही…. और इंसान को जब तक मुश्किल तपाती नही, तब तक इंसान ऊंचाई के मुकाम नही छू पाता।

इसलिए डटे रहिये और सामना कीजिये उन मुश्किलों का और ऐसा सामना कीजिये कि मुश्किलें भी आपके सामने घुटने टेक दे , क्यों…. क्योंकि अभी तक आप जिंदा है और आपमे वह क्षमता है कि आप मुश्किलों का सामना कर सके।

इसलिए कभी हार न मानिए।

दोस्तों उम्मीद है, अब आपको शायद समझ आ गया हो, जब जिंदगी में मुश्किल आये तो उनसे कैसे निपटें (life ki problems ko kaise dur kare), भले ही problems बहुत अधिक ही क्यों न बढ़ गयी हो… और आप बस हमेशा याद रखिये कि आप अभी जिंदा है।

अगर पोस्ट पसन्द आयी हो तो शेयर करना मत भूले।

अगर आपका अभी भी कोई इस आर्टिकल से रिलेटेड सवाल हो, तो कमेंट करके जरूर पूछ सकते है।

यह भी पढ़े: अगर मौज से बिना किसी चिंता के जिंदगी जीना चाहते है तो इस आर्टिकल को जरूर पढ़े

अगर आप ज्ञानपूंजी की तरफ से रोजाना प्रेरणादायक विचार अपने व्हाट्सप्प पर प्राप्त करना चाहते है तो 9803282900 पर अपना नाम और शहर लिखकर व्हाट्सप्प मैसेज करे.

Spread the love

7 thoughts on “Life में problems जब बहुत ज्यादा बढ़ जाये, तब क्या करे…?”

  1. Meri life main abhi sab Kuch thick hai koi badi problem na hote hue bhi main pata nahi Kyun Dil sey khus nahi reh pata menatly disturb sa rehta Hu bhot bate or chize me man hi man sochta Hu or unki bajah sey khul ke apni life ko injoy nh kar pa raha Mera waight bhot loos ho gaya h pehle sey sab tokte h mujhe ki tumhe kya tensan hai Kyun itna patle hote ja rahe ho….mere sath kya problem h mujhe samjh Nahi arha…kya Karu please batayen??

    Reply

Leave a Comment