व्यक्ति असल मे तब हारता है…

Vyakti Asal Me Tab Haarta Hai

किसी भी व्यक्ति की
असल हार तब नही होती
जब वह हार जाता है,

बल्कि तब होती है
जब वह जीतने के लिए
प्रयास करना छोड़ देता है।

जीत-हार तो प्रकृति का नियम है। विजेता तो कोई एक ही हो सकता है और जो सबसे बढ़िया करेगा वही विजयी होगा। पर इसका यह मतलब नही कि हारने वाला बिल्कुल बेकार है, बस उसके प्रयत्न और मेहनत थोड़ी कम रह गए, इसलिए प्रयत्न और मेहनत करते रहिए और जब आप सबसे अधिक मेहनत करेंगे तो अवश्य अगली बार आप नंबर एक पर होंगे।

अगर आप ज्ञानपूंजी की तरफ से रोजाना प्रेरणादायक विचार अपने व्हाट्सप्प पर प्राप्त करना चाहते है तो 9803282900 पर अपना नाम और शहर लिखकर व्हाट्सप्प मैसेज करे.

Spread the love

1 thought on “व्यक्ति असल मे तब हारता है…”

Leave a Comment