सिर्फ नजरिया बदलने की जरूरत है, जिंदगी अपने आप बदल जाएगी

Sirf Najariya Badalne Ki Jarurat Hai

एक व्यक्ति साधु की कुटिया में एक गाय दान करके चला गया

गुरु:- बढ़िया है, गाय आ गयी, अब दूध पीने को मिला करेगा।

कुछ दिनों बाद वही व्यक्ति अपनी गाय वापिस ले गया। शिष्य गुरु जी के पास आया और बोला कि वह व्यक्ति अपनी गाय वापिस ले गया है।

इसपर भी गुरु जी बोले, बढ़िया है, गोबर साफ करने में जो दिक्कत आती थी वह अब नही आयेगी।

दोनों ही परिस्थितियों में गुरु जी ने positive behaviour रखा और दोनों को ही खुशी-खुशी स्वीकार किया। जो होना है ,होकर रहेगा, हम स्वीकार कर सके या न कर सके, इससे कोई फर्क नही पढ़ने वाला इसलिए बेहतर यही है हम स्वीकार कर ही लें।

सिर्फ नजरिया बदलने की जरूरत है,जिंदगी अपने आप बदल जाएगी। अगर कुछ बुरा हो रहा है तो उसमे भी खुशी/अच्छाई ढूंढिए तो सब बढ़िया होने लगेगा क्योंकि हमारी मनःस्थिति हमारी अपनी सोच पर ही निर्भर करती है और जब सोच ही हमेशा पॉजिटिव होगी तो मन भी पॉजिटिव और लाइफ भी पॉजिटिव ही रहेगी।

इसलिए हर बात में positivity ढूंढकर उसे स्वीकार करें।


आर्टिकल पसन्द आया हो तो अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करे और ईमेल सब्सक्रिप्शन लेना मत भूले।

अगर आप ज्ञानपूंजी की तरफ से रोजाना प्रेरणादायक विचार अपने व्हाट्सप्प पर प्राप्त करना चाहते है तो 9803282900 पर अपना नाम और शहर लिखकर व्हाट्सप्प मैसेज करे.

Spread the love

3 thoughts on “सिर्फ नजरिया बदलने की जरूरत है, जिंदगी अपने आप बदल जाएगी”

  1. greeting of the day
    thank you sir
    last kuch time se bhot gusa aane lga tha mujhe choti choti baato par but aapka ye post pad kar mujhe bhot kuch samj aa gya hai and mujh lgta hai ki muj main kafi badlav aaye hai
    thanks once again for your help

    Reply

Leave a Comment